Menu

अलीगढ़ में 3 एवं एटा, हाथरस, कासगंज में एक-एक और इकाई को बनाया गया कोविड केयर सेन्टर

Published: May 22, 2020 at 9:55 pm

nobanner
Print Friendly, PDF & Email

अलीगढ़ 22मई (सूवि): कोविड-19 संक्रमण के कहर से प्रदेशवासियों को बचाने के लिये प्रदेश सरकार दृढ़संकल्पित है। मण्डलायुक्त जी0 एस0 प्रियदर्शी ने बताया कि मण्डल में 6 इकाइयों को डेडीकेटेड कोविड-19 एल-1 कोविड केयर सेंटर एवं चिकित्सालय के रूप में स्वीकृति प्रदान कर दी गयी है। इन सभी को मान्यता प्राप्त होने के उपराॅत मण्डल भर में 1375 आइसोलेशन बैड में और इजाफा हो गया है। मुख्य चिकित्साधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक एवं संबंधित एमओआईसी को निर्देशित किया गया है वह इस संबंध में अग्रिम कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।

मण्डलायुक्त अलीगढ जी.एस. प्रियदर्शी ने बताया कि कोरोना वायरस के निवारक एवं उपचारक उपायों हेतु मण्डल में 6 इकाइयों को एल-1 चिकित्सालय के तौर स्वीकृति प्रदान की गयी है, यह कोरोना संक्रमण के मरीजों के लिये मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने बताया कि अलीगढ़ में 300 बैड की क्षमता प्राप्त किये हुये जीवन ज्योति आयुर्वेदिक मैडिकल कालेज, लोधा, 200 बैड की क्षमता धारक विज़न इंस्टीट्यूट आॅफ टैक्नाॅलाजी, आगरा रोड एवं 225 बैड क्षमता का साईं आयुर्वेदिक मैडिकल कालेज सारसौल, जी.टी.रोड़ एल-1 चिकित्सालय के रूप में सरकार द्वारा अधिसूचित किये गये हैं।

उन्होंने यह भी बताया कि इसी प्रकार से जनपद एटा में 200 बैड की क्षमता प्राप्त किये जनता डिग्री कालेज, हाथरस में केसीएन महाविद्यालय को 200 बैड की क्षमता का और कासगंज में जवाहर नवोदय विद्यालय थारा क्षेत्र सहावर को 250 बैड क्षमता का डेडीकेटेड कोविड केयर सेंटर एवं चिकित्सालय के रूप में अधिसूचित किये गये हैं। अपर निदेशक स्वास्थ्य ने बताया कि सभी मुख्य चिकित्साधिकारियों एवं चिकित्सा अधीक्षकों को इस संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दे दिये गये हैं।




अनलॉक 1.0: पास बनना बंद, आज से कहीं भी आ-जा सकेंगे