Menu

पूरे दिन बाँध सकेंगी बहनें राखी, रंगों के हिसाब से करें राखियों का चुनाव : स्वामी पूर्णानंदपुरी

Published: August 14, 2019 at 10:57 pm

nobanner
Print Friendly, PDF & Email




वीपीएल न्यूज़, अलीगढ़- यूं तो भारत में भाई-बहनों के बीच प्रेम और कर्तव्य की भूमिका किसी एक दिन की मोहताज नहीं है पर रक्षाबंधन के ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व की वजह से ही यह दिन इतना महत्वपूर्ण बना है। बरसों से चला आ रहा यह त्यौहार आज भी बेहद हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। श्रावण मास की पूर्णिमा के दिन मनाया जाने वाला यह त्योहार भाई का बहन के प्रति प्यार का प्रतीक है। राखी देश की रक्षा, पर्यावरण की रक्षा, हितों की रक्षा आदि के लिए भी बांधी जाती है। स्वतंत्रता दिवस के साथ भाई-बहन के स्नेह का पावन पर्व आज मनाया जाएगा। इस बार रक्षाबंधन पर भद्रा नहीं है।

इसलिए पूरा दिन राखी बांधने के लिए शुभ रहेगा। श्रवण नक्षत्र में दिन की शुरुआत होगी, जो 8.30 बजे तक रहेगा। पूर्णिमा तिथि भी सांय 5:58 तक रहेगी। इसके बाद घनिष्ठा नक्षत्र है। सुबह 11 बजे तक सौभाग्य योग और इसके बाद शोभन योग में रक्षाबंधन मनेगा। यह जानकारी देते हुए वैदिक ज्योतिष संस्थान के प्रमुख एवं महामंडलेश्वर स्वामी श्री पूर्णानंदपुरी जी महाराज ने रक्षाबंधन पर्व से जुडी जानकारी साझा करते हुए दी।

परमपूज्य गुरुदेव ने आगे की जानकारी देते हुए बताया कि इस बार भद्रा सूर्योदय के पहले ही समाप्त हो जाएगी। श्रवण नक्षत्र, स्वामी चंद्र, योग सौभाग्य करण वणिज, राशि मकर, स्वामी शनि, इन सभी योग को मिला कर पूरा दिन रक्षाबंधन के लिए शुभ है। रक्षाबंधन पर बहनें भाइयों की दाहिनी कलाई में राखी बांधती हैं, उनका तिलक करती हैं और उनसे अपनी रक्षा का संकल्प लेती हैं। हालांकि रक्षाबंधन की व्यापकता इससे भी कहीं ज्यादा है।

राखियों के दान से जुडी जानकारी देते हुए बताया कि मेष राशि वाले जातक लाल, गुलाबी या पीली राखी बांधें और बदले में अपनी बहन को पीले रंग वस्त्र दान करें वहीँ वृष राशि वाले जातकों को श्वेत, नीली, रेशमी या चांदी की चमकीली राखी बांधकर अपनी बहनों को रेशमी, श्वेत, क्रीम कलर का वस्त्र दे सकते हैं। मिथुन राशि वाले जातक हरी, नीली तथा गुलाबी राखी बांधकर हरा वस्त्र दान दें।

कर्क राशि वाले श्वेत, पीली, चमकीली या रेशमी राखी बांधें तथा श्वेत या पीला वस्त्र दे सकते हैं। सिंह राशि वाले लाल, महरूम या पीली राखी बंधवाकर गुलाबी रंग का वस्त्र दे सकते हैं। कन्या राशी वाले श्वेत, हरी या गुलाबी राखी बांधें तथा हरा, गुलाबी या श्वेत वस्त्र दें। तुला राशी के लोग श्वेत, नीली या चमकीली राखी बांधे तथा श्वेत या नीला वस्त्र का दान करें।

वृश्चिक राशि के जातकों को लाल, गुलाबी या पीली राखी बंधवाकर सुर्ख लाल वस्त्रदान दे सकते हैं। धनु राशी वाले जातक पीली, लाल या गुलाबी राखी बांधकर पीला वस्त्र दे सकते हैं। मकर राशि वाले लोग नीली, चमकीली या श्वेत राखी बांधकर लाल वस्त्र दे सकते हैं। कुंभ राशि के लोग श्वेत या नीली राखी बांधें तथा नीला वस्त्र दान करें। मीन राशि के जातक पीली या गुलाबी राखी बांधकर पीला या गुलाबी वस्त्र दान में दे सकते हैं।






ध्यानी और विनोद के शव मिले, परिवार गाजियाबाद रवाना