Menu

परोपकार भारतीय संस्कृति के मूल में है स्थित : डीएम चन्द्र भूषण सिंह

Published: January 8, 2019 at 5:41 pm

nobanner
Print Friendly, PDF & Email




वीपीएल न्यूज़, अलीगढ़- भारतीय संस्कृति के मूल में परोपकार एक अहम तत्व रहा है। भारत की जनता स्वभाव से परोपकारी है वह अपने जीवन यापन के साथ-साथ पशु पक्षियों के जीवन यापन के लिए सदैव दान करती रही है। ठाकुर भूप सिंह सदानन्द आश्रम में निराश्रित गौवंश के लिए बनाई गयी गौशाला जहां जिले में नवनिर्मित गौशाला में सबसे पहले क्रियाशील होकर अपना कार्य प्रारम्भ किया है वहीं दूसरी ओर अनेक ग्रामीण क्षेत्र के लोग एवं समाजसेवी संस्थाओं के लिए प्रेरणा का स्रोत बनेगी जिससे और लोग भी निराश्रित गौवंश के लिए नवीन गौशालाओं का निर्माण करेंगे।

यह विचार जिलाधिकारी चन्द्र भूषण सिंह ने धनीपुर ब्लॉक में अलहदादपुर में गौशाला का उद्घाटन करते हुए व्यक्त किये। उन्होंने गौशाला हेतु एक लाख रूपये देने की घोषणा भी की। गौशाला में गौवंश के लिए भरपूर पानी एवं चारे की व्यवस्था, रहने के लिए पक्का बरामदा एवं विचरण के लिए पर्याप्त स्थान मौजूद है। वर्तमान में गौशाला में 36 गौवंश उपस्थित हैं। उन्होंने गौशाला का निरीक्षण करते हुए अनेक गौवंशों को स्वतः अपने हाथ से चारा खिलाया एवं गौवंश के चारे हेतु बनाये गये स्थान एवं पानी की व्यवस्था का निरीक्षण किया। कुछ ग्रामीणों द्वारा अलहदादपुर ग्राम के विकास के लिए जिलाधिकारी से मांग की जिस पर उन्होंने विकास प्राधिकरण से 20 लाख रूपये के कार्य कराने का आश्वासन दिया।

जिलाधिकारी ने उपस्थित लोगों एवं समाजसेवी संगठनों से अपील की कि वह अधिक से अधिक गौवंश की रक्षा हेतु अपना सहयोग प्रदान करें। उन्होंने कहा कि पशुपालक जहां अपने अनेक पशुओं का पालन करते हैं वहीं एक निराश्रित गौवंश का भी पालन कर उनकी रक्षा में अपना सहयोग प्रदान करें।

मुख्य विकास अधिकारी दिनेश चन्द्र ने कहा कि इस गौशाला से आसपास के गॉवों को काफी राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि जहां भी निराश्रित गौवंश खेतों में चर रहे हों उन्हें यथाशीघ्र गौशाला में भेजें और जिन पशुपालकों ने अपने गौवंश दूध पीने के पश्चात आवारा रूप में छोड़ दिए हैं उन लोगों की शिकायत जिलाधिकारी वार रूम में की जाए जिससे उन लोगों को चिन्हित कर के उनके विरूद्ध पशु क्रूरता अधिनियम के अन्तर्गत कार्यवाही की जा सके। उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ता का नाम गोपनीय रहेगा।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी दिनेश चन्द्र, तेजवीर सिंह, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी ज्योति शर्मा, साध्वी सुधा सिंह, गजेन्द्र सिंह, सतेन्द्र कुमार सिंह के साथ अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।