Menu

अलीगढ़: जॉइंट मजिस्ट्रेट ने 11 भू-माफियाओं पर कराई एफआईआर दर्ज़

Published: October 6, 2018 at 7:39 pm

nobanner
Print Friendly, PDF & Email




वीपीएल न्यूज़, अलीगढ़- जिलाधिकारी चंद्र भूषण सिंह के निर्देशों के अनुपालन में जॉइंट मजिस्ट्रेट जोगिंदर सिंह ने पिछले दिनो भू-माफियाओं द्वारा कब्जा की गई धौर्रामाफी में मरघट की जमीन के खसरा नंबर 535 के रकबा 1270 वर्ग मीटर की लगभग 120 वर्ग मीटर जगह पर दुकानों का अवैध निर्माण को अतिक्रमण मुक्त कराया था।

जॉइंट मजिस्ट्रेट श्री सिंह के नेतृत्व में इस निर्माण को तहसीलदार कोल गौतम सिंह एवं पुलिस टीम ने कब्जा मुक्त कराया था। जॉइंट मजिस्ट्रेट श्री सिंह ने बताया कि इस जमीन की कीमत लगभग 16 लाख 57 हजार है। इसके अतिरिक्त धौर्रामाफी में खसरा नम्बर 2 के 3460 वर्ग मीटर ऊसर भूमि पर की गई अवध प्लाटिंग को कब्जा मुक्त कराया गया था। इस जमीन की कीमत 4 करोड़ 78 लाख बताई गई है।

अवैध रूप से कब्जाई गई जमीनों के सम्बंध में 10 लोगों के खिलाफ सुसंगत धाराओं मे एफ आईआर दर्ज़ कराई गयी है, जिनके नाम 1. मो.साबिर राही पुत्र बुलाकी खा एकता नगर सिविल लाइंस, 2. मोनोबर हसन पुत्र सदऊल हसन फिरदौस नगर बरोला, 3. शान मिया पुत्र गुलज़ार अहमद 4/230 जोहराबाग, 4. मेहरबानो पत्नी बुशनूर खा 4/230 जोहराबाग, 5. यासमीन जैदी पत्नी खलीक राजा 4/230 जोहराबाग, 6. मो.ओवेस अहमद पुत्र मूसा कासिर धौर्रा माफी, 7. मो इब्राहिम खां पुत्र अब्दुल अजीज धौर्रा माफी, 8. खदोज़ा पति प्रो.एम सउद आलम धौर्रा माफी, 9. खालिक अहमद पुत्र जमील अहमद धौर्रा माफी। मुसाहिद धौर्रा माफी, 10. मुसाहिद पुत्र गुलज़ार अहमद धौर्रा माफी हैं।

इसी क्रम में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट श्री सिंह ने बताया कि एलमपुर मे सरकारी ऊसर की जमीन को बेचने के आरोप में खजान पुत्र रामस्वरूप निवासी एलमपुर के विरुद्ध आईपीसी की धारा 420, 467, 468, 447 और लोक सम्पति हानि निवारण अधिनयम के 3/5 के अंतर्गत एफआईआर दर्ज़ कराई गयी है।





Leave a Comment

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>