Menu

एलआईसी ने किए सेवा और विश्वास के 62 वर्ष पूर्ण, स्थापना दिवस पर शुरू किया बीमा सप्ताह

Published: September 1, 2018 at 5:56 pm

nobanner
Print Friendly, PDF & Email






वीपीएल न्यूज़, अलीगढ़- भारतीय जीवन बीमा निगम ने 1 सितम्बर, 2018 को सेवा और विश्वास के 62 वर्ष पूर्ण कर लिए हैं। एलआईसी के 62वें स्थापना दिवस के अवसर पर अलीगढ़ मण्डल के वरि0 मण्डल प्रबंधक अरूण पाल ने पत्रकार वार्ता का आयोजन किया।

एलआईसी के 62वें वर्षगांठ के अवसर पर शनिवार को बीमा सप्ताह (01.09.2018 से 07.09.2018) का उद्घाटन किया गया। मुख्य अतिथि डाक्टर सगीर अहमद अंसारी व अरुण पाल ने ध्वजारोहण किया। डाक्टर अंसारी ने फीता काटकर ग्राहक सुविधा पटल का उद्घाटन किया। बीमा सप्ताह के अंतर्गत 1 सितम्बर को उद्घघाटन, 4 सितम्बर को अनाथालय में आवश्यक वस्तुओं का वितरण, रक्तदान शिविर, स्वास्थ्य जांच, 5 सितम्बर को वृक्षारोपण, 6 सितम्बर को निबंध व पेंटिंग प्रतियोगिता, ग्राहक मीट, तथा 7 सितम्बर को समापन और सम्मान समारोह होगा।

डाक्टर सगीर अहमद अंसारी ने कहा कि भारतीय जीवन बीमा निगम ने राष्ट्रीयकरण के उद्देश्यों के अनुरूप देश के आधारभूत इंफ्रास्ट्र्क्चर के निर्माण एवं राष्ट्र की आर्थिक प्रगति में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है। राष्ट्र के औद्योगीकरण की सफलता में निगम की महती भूमिका है। इस अवसर पर श्री सगीर ने कहा कि वर्तमान में 23 निजी कम्पनियों के बावजूद भी भारतीय जीवन बीमा निगम जीवन बीमा के क्षेत्र में एक बडे अंतराल से मार्केट लीडर है।

अरुण पाल ने अपने सम्बोधन में एलआईसी के सुरक्षा एवं विश्वास के 62 वर्षों के कार्यों एवं उपलब्धियों पर प्रकाश डाला। श्री अरुण पाल ने निगम की 62 वर्षों की यात्रा एवं इसमे आये विभिन्न चुनौतियों एवं अवसरों से भी लोगों को अवगत कराया। श्री पाल ने समस्त कर्मचारियों, अधिकारियों, अभिकर्ताओं का आह्वान किया कि वह पूरी निष्ठा एवं लगन के साथ बीमाधारकों की सेवा करें। उन्होंने कहा कि एल.आई.सी. ने तमाम मील के पत्थरों को पार करते हुये जीवन बीमा व्यवसाय के प्रत्येक क्षेत्र में बेमिसाल कीर्तिमान स्थापित किये हैं। तमाम उतार-चढ़ावों के बावजूद भी एलआईसी ने पूर्व स्थापित कीर्तिमानों को ध्वस्त किया है।

उन्होंने बताया कि आज 28.45 लाख करोड़ से अधिक की परिसम्पत्तियॉ और रु. 25,84,484.92 करोड़ का लाइफ फण्ड है। एल.आई.सी. देशभर में विस्तारित 4826 से अधिक कार्यालयों में कार्यरत 1.12 लाख कर्मचारियों और 11.48 लाख अभिकर्ताओं के माध्यम से 29 करोड़ से अधिक पॉलिसीधारकों को सेवायें प्रदान कर रहा है। वर्ष 2017-18 के दौरान भारतीय जीवन बीमा निगम ने नव व्यवसाय प्रथम प्रीमियम में 8.12% की वृद्धि दर्ज की है।

एल.आई.सी. अपने ग्राहकों को प्रदान की जाने वाली सेवाओं की गुणवत्ता को बढ़ाने के लिये सूचना प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करने वाला अग्रणी संस्थान है। सूचना प्रौद्योगिकी के माध्यमों ने एस.एम.एस. आधारित सहायता सेवाओं, ऑनलाइन प्रीमियम भुगतान और लेन-देन हेतु एस.एम.एस. एलर्ट को सुविधाजनक बना दिया है। ग्राहक लेन-देन हेतु ई-सेवाओं का उपयोग कर रहे हैं। एल.आई.सी. के नये कस्टमर पोर्टल के 100 लाख से अधिक रजिस्टर्ड उपयोगकर्ता हैं। एल.आई.सी. उत्पाद एवं पोर्टल सेवाओं की सम्पूर्ण जानकारी अत्यंत सहज है।

एल.आई.सी. सामाजिक सुरक्षा योजनाओं यथा प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एवं आम आदमी बीमा योजना के अंतर्गत रियायती दरों पर गरीबी रेखा के नीचे एवं उसके थोड़ा ऊपर जीवन-यापन करने वाले लोगों को बीमा सुरक्षा प्रदान कर रही है। 31 मार्च, 2018 के अंत तक आम आदमी बीमा योजना एवं प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अंतर्गत क्रमशः 40.35 लाख एवं 265.96 लाख लोग बीमाच्छादित थे।

एल.आई.सी. के गोल्डन जुबली फण्ड से विपत्ति और गरीबी में राहत, शिक्षा का उत्थान, चिकित्सा राहत और जनसामान्य की सुविधाओं और राहत से जुड़े अन्य क्षेत्र हैं। स्थापना के समय से फाउण्डेन ने उपरोक्त उद्देश्य हेतु समर्पित गैर-सरकारी संगठनों के देशभर में फैले 444 प्रोजेक्ट्स को सहायता प्रदान की है। फाउण्डेशन ने ढॉचागत सहायता प्रदान कर उपरोक्त उद्देश्यों के अंतर्गत देभर में दूरस्थ क्षेत्रों में समाज के पिछड़े और गरीब तबके को राहत पहुॅचाने का कार्य किया है।

उन्होंने बताया कि इस वर्ष एल.आई.सी. ने विभिन्न क्षेत्रों में 27 पुरस्कार प्राप्त किये हैं। विभिन्न पुरस्कारों में गोल्डन पिकॉक एवार्ड 2017, बेस्ट इण्डियन 2017, डेन एवं ब्राड्शीट टाप चैन अवार्ड 2017, इण्डियन इंशुरेंस अवार्ड प्रमुख हैं।

इस अवसर पर विपणन प्रबंधक भूपाल सिंह, अजीम इक़बाल, मण्डल कार्यालय के समस्त प्रबंधक, अधिकारी, कर्मचारी, अभिकर्तागण एवं सेवा निवृत्त कर्मचारी, अधिकारीगण उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती अलका भाल ने किया।






Leave a Comment

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>