Menu

अलीगढ़: लूट की योजना बनाते 4 अभियुक्त गिरफ्तार, लूटे गये मोबाइल व 2 बाइक बरामद

Published: August 27, 2018 at 8:45 pm

nobanner
Print Friendly, PDF & Email





वीपीएल न्यूज़, अलीगढ़- थाना बन्नादेवी पुलिस ने लूट और पर्स छिनैती करने वाले गिरोह के 4 सदस्यों को लूट की योजना बनाते हुए पकड़ा है। पुलिस ने पकड़े गए लुटेरों से 2 चोरी की बाइक, लूटे गए कई मोबाइल और नगदी बरामद की है। एसएसपी ने पुलिस टीम को 20 हजार का नकद इनाम दिया है।

एसएसपी अजय कुमार साहनी ने पत्रकारों को बताया कि मुखबिर खास द्वारा सूचना मिली कि कुछ बदमाश नगर निगम के सामने खाली पडे मैदान में बने खंडरो में लूट की योजना बना रहे है तथा उनके पास लूट से सम्बन्धित मोबाइल व अवैध शस्त्र भी है। इस सूचना पर थाना बन्नादेवी पुलिस ने अभियुक्तगण पुष्पेन्द्र उर्फ पूसी पुत्र श्री गिरीश चन्द्र राठौर नि0 मलिक चौक मैलरोज बाईपास जलालपुर थाना देहलीगेट अलीगढ, भोला उर्फ प्रदीप पुत्र स्व0 सुरेश चन्द्र शर्मा नि0 रामनगर कालौनी एसआरएस स्कूल के सामने खैर रोड थाना देहलीगेट अलीगढ, राकेश कुमार पुत्र देवी सिंह जाटव नि0 मलिक चौक पीपल के पेड के पास मैलरोज बाईपास थाना देहलीगेट अलीगढ, राहुल पुत्र भगवती जाटव नि0 मलिक चौक मैलरोज बाईपास जलालपुर थाना देहलीगेट अलीगढ को नगर निगम गोदाम के सामने खाली पडे मैदान में बने खंडर से गिरफ्तार किया है।

उन्होंने बताया कि अभियुक्तगण के कब्जे से लूट के विभिन्न कम्पनियो के मोबाइल तथा अवैध शस्त्र व कारसूत बरामद किये गये हैं। अभियुक्त शातिर किस्म के अपराधी है व कई घटनाओ को अंजाम भी दे चुके हैं, जिसके सम्बन्ध में थाना बन्नादेवी व जनपद के अन्य थानों में मुकदमें भी दर्ज है। अभियुक्तगण द्वारा थाना बन्नादेवी क्षेत्र व जनपद के अन्य थाना क्षेत्र की कई घटनाओ को अंजाम देना भी कबूला है। अभियुक्तगण के आपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है।

गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीम में थाना प्रभारी राघवेंद्र सिंह, एसएचओ विनोद कुमार मिश्रा, उ. नि. अतुल कुमार, उ. नि. नरेश सिंह, उ. नि. कमल सिंह, उ. नि. रमेश चंद्र, उ. नि. अश्वनी कुमार, कांस्टेबल प्रवीण कुमार, राजेश कुमार, नवीन कुमार, कमलेश कुमार शामिल रहे।






Leave a Comment

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>