Menu

AMU : बीएससी, बीकॉम एवं बीए की प्रवेश परीक्षा दो चरणों में शांतिपूर्ण संपन्न, 23180अभ्यर्थियों ने दी परीक्षा

Published: April 15, 2018 at 8:56 pm

nobanner
Print Friendly, PDF & Email




वीपीएल न्यूज़, अलीगढ़ 15 अप्रैल- अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के बीएससी, बीकॉम एवं बीए की प्रवेश परीक्षा रविवार को एएमयू सहित देश के अन्य राज्यों में बने परीक्षा केन्द्रों पर दो चरणों में शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न हो गई।

प्रथम चरण में बीएससी (आनर्स) तथा बीकॉम (आनर्स) की प्रवेश परीक्षा प्रातः 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक संपन्न हुई। बीएससी की प्रवेश परीक्षा के लिए 19838 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था जिसमें एएमयू में बने परीक्षा केन्द्र पर 11844 अभ्यार्थी शामिल हुए। परीक्षार्थियों के लिए एएमयू में 27 परीक्षा केन्द्र बनाये गये थे।

बीकॉम (आनर्स) की प्रवेश परीक्षा भी प्रातः 10 बजे से दोपहर 12 बजे के मध्य एएमयू में बने परीक्षा केन्द्रों के अलावा लखनऊ, कोलकाता, श्रीनगर, पटना व खानपाड़ा (मेघालय) परीक्षा केन्द्रों पर शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न हुई। एएमयू में बने छह परीक्षा केन्द्रों पर 4140 अभ्यार्थी शामिल हुए। बीकॉम की प्रवेश परीक्षा के लिए 5852 अभ्यार्थियो ने आवेदन किया था।

बीए (आनर्स) की प्रवेश परीक्षा सायं 4 बजे से 6 बजे के मध्य एएमयू में बने ग्यारह परीक्षा केन्द्रों के अलावा अन्य प्रदेशों में बनाये गये परीक्षा केन्द्रों पर संपन्न हुई। एएमयू में बने परीक्षा केन्द्रों पर 7196 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी। इस परीक्षा के लिए 11024 अभ्यार्थियों ने आवेदन किया था।

परीक्षा नियंत्रक श्री मुजीबउल्लाह जुबैरी ने बताया कि प्रवेश परीक्षा शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न हुई। उन्होंने बताया कि सभी परीक्षा केन्द्रों पर शिक्षकों को पर्यवेक्षक के रूप में तैनात किया गया था। परीक्षा केन्द्रों के बाहर अभ्यार्थियों के अभिभावकों के बैठने एवं शीतल जल की व्यवस्था की गई थी। अभ्यार्थियों व उनके अभिभावकों के मार्गदर्शन के लिए परिसर में विभिन्न स्थानों पर सहायता शिविर भी लगाये गये थे।

इसके अतिरिक्त राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के स्वयं सेवकों व स्वयं सेविकाओं व एनएसएस में कार्यरत कर्मचारियों द्वारा प्रवेश परीक्षा में सहायता शिविर लगाया गया। इस शिविर में दूसरे शहरों से आए हुए छात्र व छात्राओं को उनके सेंटर के बारे में जानकारी दी गयीं।

इस अवसर पर प्रो. मोहम्मद मसरूर आलम कार्यक्रम समन्वयक व मोहसिन जफर खॉन, जेवा रिज्वी, मो. अकरम आदि द्वारा सहयोग किया गया।





Leave a Comment

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>