Menu

श्री मंगलकारी बालाजी मंदिर पर बही धार्मिक कार्यक्रमों की त्रिवेणी

Published: March 13, 2018 at 7:17 pm

nobanner
Print Friendly, PDF & Email




वीपीएल न्यूज़, अलीगढ़- श्री मंगलकारी बालाजी महाराज ट्रस्ट के तत्वावधान में रामघाट रोड तालानगरी स्थित श्री मंगलकारी बालाजी महाराज मंदिर का 12 में वार्षिकोत्सव के दूसरे दिन भक्ति मय धार्मिक कार्यक्रमों की त्रिवेणी वही। जिसमें भक्तों में हवन, छप्पन भोग, फूल बगला, भजन संध्या, महाआरती में सामिल होकर मनोकामना पूर्ण होने की बाबा से अरदास की।

मंगलवार की प्रातकाल मन्दिर समिति के पदाधिकारियों से आचार्यो ने बालाजी महाराज का अभिषेक कर श्रंगार किया, तथा भगवान का भोग लगाया।

समाजसेवी तिलकराज यादव ने दीप जलाकर फूल बंगला व छप्पन भोग दर्शन का शुभारम्भ किया। इसी क्रम में आचार्य ब्रजेश शास्त्री, गौरब शास्त्री, ऋषि शास्त्री, सौरभ शास्त्री आदि ने मुख्य यजमान धनजीत सिंह बाडरा व उनकी पत्नी से भूमि, गंगा, गणेश, रामजानकी, हनुमान जी महाराज, काली, लक्ष्मी, सरस्वती का आह्वान कर पूजन कराया।

विघ्नहर्ता मंगलकारी बालाजी महाराज के पंचकुडीय महा यज्ञ में लगभग 500 से अधिक भक्तो ने आहुतियॉ दी। साढ़े तीन घण्टे चले महायज्ञ के उपरान्त भक्तों न केवल प्रेतो के सरताज प्रेतराज सरकार का पूजन किया। बल्कि विभिन्न पदार्था से भगवान का भोग लगाया, और छप्पन भोग व फूल बंगला के दर्शन कर बाबा के भण्डारे में प्रसाद ग्रहण किया। सांय पॉच बजे आरम्भ हुई भजन संध्या में गायकों ने एक से भड़कर एक प्रस्तुति देकर बाबा का गुणगान किया। जिनपर मौजूद भक्त थिरकनें को मजबूर हो गए।

इस मौके पर आचार्य ब्रजेश शास्त्री, विशन कुमार अग्रवाल, शिव कुमार गर्ग, कामेश्वर प्रसाद, मुकुल मित्तल, ओ0पी0 बाबा, डी0सी0 अग्रवाल, अजीत गोयल, उमेश चन्द्र, मनोज अग्रवाल विग्स, पवन कुमार वार्ष्णेय, ललित दिवान, प्रमोद गुप्ता, डॉ0 तारा चन्द, आकाश वार्ष्णेय, नवीन गर्ग, भिखारी दास वार्ष्णेय, किशन दयाल अग्रवाल, राजीव अग्रवाल, अनिल बंसल, विनीत अग्रवाल, रवि जिंदल, रमेश चन्द्र, दिनेश मित्तल, महेश मित्तल, मनोज गोकुल, आर0के0 जिंदल, अतुल मित्तल, मनीश अग्रवाल आदि उपस्थित थे।






Leave a Comment

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>